UP Board UPMSP 10th, 12th results 2020, Sarkari Result 2020: UP board 10th, 12th evaluation work is over, result may be released in June – UP Board Results 2020: पैसे लेकर पास कराने को अकाउंट नंबर दे रहे हैं फर्जी कर्मचारी, UP Board ने भी जारी किया नोटिस, रिजल्ट जून में


UP Board UPMSP 10th, 12th results 2020: बिहार बोर्ड के परिणाम घोषित होने के बाद, अब उत्तर प्रदेश बोर्ड रिजल्ट जारी करने वाला है। यूपी बोर्ड ने 10वीं,12वीं परीक्षा की कॉपियां चेक करने का लभगग 99 फीसदी काम खत्म कर लिया है और जल्द ही परिणाम घोषित किए जाएंगे। जिन छात्रों ने इस साल यूपी बोर्ड की परीक्षाएं दी हैं वे परिणाम जारी होने के बाद, आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in, upresults.nic.in, upmspresults.up.nic.in और results.nic.in. पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकेंगे। यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव का कहना है कि हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के 5.6 मिलियन छात्रों का परिणाम जून के अंत तक घोषित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘यूपी बोर्ड की 99.06% से अधिक उत्तर पुस्तिकाएं शनिवार तक पूरी हो गई थीं। शेष प्रतियों का मूल्यांकन काम 31 मई तक पूरा हो जाएगा। हम जून के अंत तक परिणाम घोषित करने में सक्षम होंगे।’

दरअसल, यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक अब तक प्रदेश के 67 जिलों में कॉपियों का मूल्यांकन कार्य पूरा किया जा चुका है। जबकि 8 जिलों के कॉपियों का मूल्यांकन कार्य शेष है। उन्होंने बताया कि कोरोना के चलते लॉकडाउन की वजह से ऑरेंज जोन के एक जिले बस्ती और रेड जोन के सात जिलों (आगरा, फिरोजाबाद, मथुरा, अलीगढ़, मेरठ, बरेली और वाराणसी) में मूल्यांकन कार्य शेष है। रेड जोन में कॉपियों की मूल्यांकन प्रक्रिया 19 मई से शुरू हुई थी, जबकि ऑरेंज जोन में 12 मई से और ग्रीन जोन में 5 मई से कॉपियों का मूल्यांकन शुरू किया गया था।

वहीं, CBSE Board के बाद, यूपी बोर्ड ने भी 10वीं, 12वीं के छात्रों को पैसे लेकर पास कराने के फर्जीवाड़े से बचने के लिए आगाह किया है। बोर्ड ने एक नोटिस जारी करके छात्रों और अभिभावकों को ऐसे लोगों से सावधान किया है। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है कि, कुछ लोग खुद को परिषद कार्यलय का कर्मचारी बताकर मोटी रकम की मांग कर रहे हैं जिसके लिए बचत खाता संख्या और IFSC Code भी दिया जा रहा है। इससे पहले, सीबीएसई बोर्ड ने भी इस मामले में नोटिस जारी कर छात्रों और अभिभावकों को सावधान रहने के लिए नोटिस जारी किया था।

बता दें कि, कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के परिणाम पहले 24 अप्रैल को घोषित किए जाने थे। एक अधिकारी ने कहा, लेकिन लॉकडाउन के कारण मूल्यांकन कार्य देर से शुरू हुआ और अब जून के अंत तक इसकी घोषणा की जाएगी। उत्तर प्रदेश बोर्ड में इस साल इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए 2.586 मिलियन छात्रों ने और हाई स्कूल परीक्षा के लिए 3.025 मिलियन छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। यूपी बोर्ड में इस साल कुल 5.6 मिलियन छात्रों को परिणाम का इंतजार है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो




सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई


This article was written by kk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *